दुधवा टाइगर रिजर्व में मानव वन्यजीव संघर्ष पर दो दिवसीय कार्यशाला का फील्ड डायरेक्टर की मौजूदगी में किया गया आयोजन

फारुख हुसैन

पलियाकलां। दुधवा पर्यटन परिसर सभागार में फील्ड डायरेक्टर संजय पाठक की मौजूदगी में दो दिवसीय मानव वन्यजीव संघर्ष, वन्य जीव संरक्षण व प्रबंध से संबंधित दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में मौजूद अधिकारियों ने कर्मचारियों को मानव वन्यजीव संघर्ष के साथ वन्य जीव संरक्षण को लेकर विभिन्न महत्वपूर्ण टिप्स दिए। बुधवार से शुरू हुई दो दिवसीय कार्यशाला का गुरुवार को समापन किया जाएगा।

कार्यशाला में मौजूद कर्मचारियों को मानव वन्यजीव संघर्ष को कम करने से संबंधी विभिन्न महत्वपूर्ण टिप्स दिये। कर्मचारियों को बताया कि कोई भी घटना घटित होने पर सबसे महत्वपूर्ण बिंदु यह है कि घटना के पीछे कारक क्या है।वास्तव में उक्त घटना किस वन्य जीव के चलते घटित हुई है इसकी पहचान आवश्यक है। बताया कि ऐसी घटनाएं किस प्रकार से रोकी जाएं एवं इन्हें किस प्रकार से न्यूनतम किया जाए इसके बारे में भी विस्तृत रूप से समझाया गया। बताया कि मानव वन्य जीव संघर्ष की कोई घटना घटित हो जाए तो उनसे संबंधित सुलभ प्रतिकार कैसे उपलब्ध कराया जाए इस पर भी विचार विमर्श किया गया।

कार्यशाला में डब्ल्यूटीआई के विशेषज्ञ प्रेम चंद्र पांडे का भी सराहनीय सहयोग रहा। कार्यशाला में डीडी मनोज कुमार सोनकर, वार्डन एसके अमरेश सहित बड़ी संख्या में रेंजर व अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *