वाराणसी पुलिस कमिश्नर के हुक्म की तामील करने सडको पर उतरी वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस

ए जावेद

वाराणसी। वाराणसी पुलिस कमिश्नर सतीश भरद्वाज के निर्देशों अनुपालन में वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस कल देर शाम से लेकर गहरी रात तक सडको पैदल गश्त करती हुई दिखाई दी। अपने सरपरस्त की रहनुमाई को पूरा करते हुवे पैदल गश्त के दरमियान वाराणसी पुलिस कमिश्नरेट ने लगभग हर थाना क्षेत्र में पैदल गश्त कर आने जाने वाले संदिग्धों की तलाशी लिया। भीड़ लगा कर खड़े लोगो से उनके इकठ्ठा होने का सबब भी जाना।

चेतगंज थाना प्रभारी अपने अधिनस्थो के साथ सडको पर किया पैदल गश्त

इस कड़ी में चेतगंज इस्पेक्टर परम हंस गुप्ता ने अपने मतहतो सहित क्षेत्र में पैदल गश्त देर रात तक किया। इस दरमियान लगभग हर एक गली में उन्होंने पैदल गश्त कर क्षेत्र में बेवजह टहल रहे लोगो को रोका और टोका। इस दरमियान उन्होंने अपने अधिनस्थो के साथ क्षेत्र में अवैध पार्किंग किये वाहनों को चेतावनी देकर छोड़ा कि दुबारा उनके द्वारा की गई अवैध पार्किंग अगर जाम का सबब बनी तो बेशक उनके ऊपर कठोर कार्यवाई किया जायेगा और वाहनों का चालान किया जायेगा।

इस क्रम में चेतगंज क्षेत्र में खाने के होटलों का भी निरिक्षण किया गया और स्पष्ट निर्देश दिया गया कि खाने के होटल पर शराब बैठ कर पीते हुवे मिलने पर शराबी और दुकानदार दोनों पर कार्यवाही होगी। वही थाना क्षेत्र के हर एक बियर और शराब की दुकानों का भी औचक निरिक्षण किया गया। पुलिस द्वारा क्षेत्र में गस्त करके भीड़ वाले इलाको में भ्रमण किया गया। इस दरमियान उनके साथ पानदरीबा चौकी इंचार्ज अजय कुमार शुक्ल, चेतगंज चौकी इंचार्ज नीलम सिंह सहित अन्य चौकी प्रभारी मौजूद रहे।

एसीपी दशाश्वमेघ के साथ क्षेत्र में पैदल गश्त किया चौक थाना प्रभारी शिवाकांत मिश्रा

एसीपी दशाश्वमेघ अवधेश कुमार पाण्डेय के साथ चौक थाना प्रभारी शिवाकांत मिश्रा ने चौक थाना क्षेत्र की गलियों, बाजारों और घाटो पर पैदल गश्त किया। इस गश्त के दरमियान दालमंडी चौकी इंचार्ज अजय कुमार, पियरी चौकी इंचार्ज श्रीमन नारायण और काशीपूरा चौकी इंचार्ज मौजूद था। गश्त के दरमियान चौक मैदागिन तथा चौक गोदौलिया मार्ग पर खडी गाडियों के स्वामियों को सख्त चेतावनी दिया गया कि निर्धारित स्थान पर ही अपना वाहन खड़ा करे।

इस दरमियान घाट पर पैदल गश्त करते हुवे फालतू का बैठे लोगो को टोका गया और उनके बैठने का सबब पूछा गया। पुलिस की पैदल गश्त देख कर नशेडी घाट छोड़ कर भाग खड़े हुवे। इस दरमियान एसीपी दशाश्वमेघ अवधेश पाण्डेय ने घाट पर सख्ती बरतने का स्पष्ट निर्देश चौक थाना प्रहरी को देते हुवे अतिक्रमण पर सख्त होने को भी निर्देशित किया। पुलिस के पैदल गश्त से क्षेत्र के अवांछनीय तत्वों में हडकंप मचा हुआ दिखाई दिया।

दालमंडी में हुवे अजय कुमार और श्रीमन नारायण सख्त

इसी पैदल गश्त के दरमियान पुलिस फ़ोर्स दालमंडी क्षेत्र में भी पहुची। दालमंडी के सराय नुक्कड़ पर अवैध अतिक्रमण कर दूकान चलाने वाले शमशाद टोकरी के सम्बन्ध में मिल रही शिकायतों के मद्देनज़र अपने दल बल के साथ दालमंडी चौकी इंचार्ज अजय कुमार और पियरी चौकी इंचार्ज श्रीमन नारायण मौके पर पहुचे। मामूर के अनुसार शमशाद टोकरी बीच नुक्कड़ पर अपना खोमचा लगा रखे थे। ढीठ किस्म के इंसान टोकरी को अजय कुमार और श्रीमन नारायण ने जमकर फटकार लगाई और सख्त निर्देश दिया कि अब दुबारा मार्ग अवरुद्ध किया तो उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही होगी।

पुलिस के इस कार्यवाही से दालमंडी क्षेत्र के कारोबारियों में ख़ुशी दिखाई दी। बताते चले कि शमशाद टोकरी मार्ग को अवरुद्ध कर अपना खोमचा लगा कर बैठा रहता है। अक्सर इसके साथ नशेडी किस्म के युवको को भी देखा जाता है। उसके इस हरकत से क्षेत्र के दुकानदार से लेकर आम नागरिक परशान रहते थे। किसी ने इसकी शिकायत पुलिस से किया था, जिसका संज्ञान लेकर पुलिस ने कड़ी कार्यवाही किया।

दशाश्वमेघ थानाध्यक्ष आशीष मिश्रा संग एसीपी अवधेश पाण्डेय ने किया पैदल गश्त

इस क्रम में एसीपी दशाश्वमेघ अवधेश पाण्डेय ने थानाध्यक्ष दशाश्वमेघ आशीष मिश्रा संग क्षेत्र में पैदल गश्त किया। सकरी गलियों से लेकर घाटो तक का निरिक्षण करते हुवे आगामी वीआईपी आगमन के मद्देनज़र आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दरमियान क्षेत्र के सभी चौकी इंचार्ज भी इस पैदल गश्त में मौजूद थे। घाटो पर अनावश्यक भीड़ लगाये हुवे लोगो से भी पुलिस ने इस दरमियान पूछताछ किया।

लक्सा थानाध्यक्ष मिथिलेश यादव ने किया पुलिस बल के साथ पैदल गश्त

लक्सा थानाध्यक्ष मिथिलेश यादव ने पुलिस बल के साथ क्षेत्र में पैदल गश्त कर संदिग्धों की तलाशी लिया। इस दरमियान मिथिलेश यादव ने क्षेत्र के हर एक पतंग कारोबारियो को स्पष्ट चेतावनी दिया कि किसी भी कीमत पर चाइनीज़ मंझा क्षेत्र में बिकने नही दिया जायेगा। उन्होंने सभी पतंग कारोबारियों को साफ़ साफ़ शब्दों में चेतावनी दिया कि कातिल मंझे के कारोबार से दूर रहे।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *