कर्णाटक: 550 साल पुरानी एतिहासिक मदरसे का ताला तोड़ कर शरारती तत्वों ने अन्दर घुस कर किया पूजा, 9 मुख्य आरोपियों में 4 गिरफ्तार

तारिक आज़मी (इनपुट: सुफियान खान)

डेस्क: कर्णाटक में दशहरे के दिन एक बड़े विवाद की खबर सामने आई हैं। जहां एक 550 साल पुराने एक ऐतिहासिक मदरसे में शरारती तत्वों की भीड़ ने जबरदस्ती ताला तोड़ कर अन्दर घुस कर पूजा पाठ किया। इस घटना के बाद स्थानीय पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए 9 लोगों को मुख्य आरोपी बनाया है जिनमे कुल 4 लोगों की गिरफ्तारी भी हो गई है।

खबरिया पोर्टल जनता से रिश्ता ने लिखा है कि यह घटना कर्नाटक के बीदर जिले में हुई। यहां दशहरा वाली रात 550 साल पुराने मदरसे में जबरन भीड़ घुस आई और लोगों द्वारा खूब तोड़फोड़ की गई। लोगों ने यहां हिंदू रीति-रिवाज से पूजा भी किया। इस मामले में कर्नाटक पुलिस ने तोड़फोड़ करने आरोप में 9 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वहीं 4 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं।  पुलिस इस केस से जुड़े सभी संदिग्धों की तलाश कर रही है।

वहीं इस मामले में विपक्ष राज्य की भाजपा सरकार पर हमलावर है और सबसे आगे एआईएमआईएम है। लोकसभा सांसदन असदुद्दीन ओवैसी ने कर्नाटक की भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके राज में ऐतिहासिक मदरसे को अपवित्र करने की कोशिश की गई है। औवैसी ने कर्नाटक की बसवराज बोम्मई सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, “राज्य की भाजपा सरकार “मुसलमानों को नीचा दिखाने” के लिए ऐसी घटनाओं को बढ़ावा दे रही है, “ऐतिहासिक महमूद गवां मस्जिद में उग्रवादियों ने गेट का ताला तोड़ा और अपवित्र करने का प्रयास किया। बीदर पुलिस कर्नाटक सीएम बसवराज बोम्मई आप ऐसा कैसे होने दे सकते हैं? बीजेपी केवल मुसलमानों को नीचा दिखाने के लिए इस तरह की गतिविधि को बढ़ावा दे रही है।”

खबरिया पोर्टल जनता से रिश्ता ने बताया है कि मदरसा महमूद गवां जो एक प्राचीन इस्लामी कॉलेज भी है और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) के अनुसार यह हेरिटेज में सूचीबद्ध है। इसके चलते कर्नाटक सरकार की आलोचना की जा रही है। मदरसे से जुड़े लोगों और अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों का आरोप है कि दशहरा वाली रात 2 बजे भीड़ मदरसे के बाहर जमा हो गई। भीड़ में मौजूद लोगों ने पहले ताला तोड़ा फिर अंदर सिंदूर बिखेरकर पूजा-पाठ की।

आपको बता दें कि इस घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें दिख रहा है कि मदरसे की सीढ़ियों पर खड़े होकर कुछ लोग  “जय श्री राम” और “हिंदू धर्म जय” के नारे लगा रहे हैं। हालांकि अभी इस वीडियो की किसी आधिकारिक सोर्स द्वारा पुष्टि नहीं की गई है। वहीं पुलिस का कहना है कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है और अन्य भागे हुए दोषियों की तलाश भी तेजी से हो रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.