प्रिंसिपल और मैनेजमेंट के बीच पिस रहे है हलीम डिग्री कालेज के छात्र

आदिल अहमद

कानपुर। बीते शुक्रवार को हलीम डिग्री कॉलेज के प्रोफेसर डॉ. वाहिद (बीएड लेक्चरर) वा एक्स्ट्रा चार्ज पर कार्यरत शारीरिक शिक्षा के हेड ऑफ डिपार्टमेंट,वा गेम इंचार्ज को मुस्लिम एसोसिशन के सचिव असलम नोमानी द्वारा एक नोटिस मिला है जिसमें उनसे शारीरिक शिक्षा और गेम का चार्ज छोड़ने को कहा गया है। लेकिन इसका हर्जाना छात्रों को भुगतना पड़ रहा है। क्लासेज बंद कर दी गई है और शारीरिक शिक्षा के लिए डिपार्टमेंट में कोई दूसरा प्रोफेसर भी उपलब्ध नहीं है। यही नही दूर दूर तक कोई प्रोफेसर उपलब्ध होने की गुंजाइश भी नहीं है। छात्रो में इसको लेकर रोष व्याप्त है.

महीने  बाद शारीरिक शिक्षा के प्रेक्टिकल भी शुरू होना है। इसको लेकर छात्र बहुत बेहाल है कि इसकी तयारी उन्हें कौन कराएगा। सुनने में यह भी है कि यह प्रिंसिपल की गलती का हर्जाना डॉ। वाहिद को भुगतना पड़ रहा है। यह बाते छात्र नेता आमिर जावेद ने हमसे बात करते हुवे कही। छात्रों ने बताया डॉ वाहिद ना सिर्फ अपनी ड्यूटी बखूबी निभाते है बल्कि अपनी एक्स्ट्रा चार्ज भी बखूबी निभाते है। उसके बावजूद अपने सैलरी के पैसों से गरीब छात्रों को पढ़ाते है इस बात को लेकर छात्र और भी आक्रोशित है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *