सुपोषण स्वास्थ्य कार्यक्रम मे दी गई एनीमिया रोग से बचाव की जानकारी

प्रदीप दुबे विक्की

गोपीगंज, भदोही। नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गोपीगंज में गुरुवार को आयोजित सुपोषण स्वास्थ्य कार्यक्रम के दौरान संतुलित खान-पान और एनीमिया आदि से बचाव हेतु जानकारी दी गई।

इस अवसर वरिष्ठ चिकित्सक आशुतोष कुमार पान्डेय ने कहा कि भोजन में मेंथी, पालक ,बथुआ, सरसों, गुड़ आदि की मात्रा बढ़ाई जाये।क्योंकि इसमें लौह तत्व की मात्रा अधिक होती है। अंकुरित दालों को हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ पका कर खाना चाहिए । इसके साथ ही उन्होंने बच्चों के साथ हो रहे गुड टच और बैड टच तथा अच्छी और बुरी निगाह से देखने को लेकर बताया । कहा कि शासन का उद्देश है कि आर्थिक तंगी के चलते कोई भी बच्चा कुपोषित ना रह जाए और किशोर-किशोरी को एनीमिया से दूर किया जा सके । जिससे सभी का समुचित शारीरिक व मानसिक विकास हो सके। साथ ही गर्भवती महिलाओं को भी इस योजना से लाभान्वित किया जा सके। ताकि जच्चा एवं बच्चा दोनों ही स्वस्थ रहें ।

उन्होंने कहा कि कुपोषण विकासशील समाज में बहुत अधिक प्रभाव डालता है । इसके लिए समाज को चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं पोषण के प्रति जागरूक रहने की अति आवश्यकता है । इसका एक पहलू स्वच्छता भी है। क्योंकि आसपास के परिवेश में स्वच्छता न होने से कई संक्रमण जनित बीमारियां भी फैलती है। इसलिए स्वच्छता पर विशेष ध्यान रखना हमारा नैतिक दायित्व है । कार्यक्रम में ट्रेनर नंदलाल प्रसाद , डॉक्टर गरिमा गुजराती ने भी अपने विचार व्यक्त किए। सहयोगीयों में दिनेश कुमार, डॉक्टर मोहम्मद अनीस, राधिका पाल, रंजना सिंह ,डॉ श्रीराम उपाध्याय आदि शामिल रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *