भीमपुरा में बोले निरहुआ – जो अपने पिता का न हुआ वह हाथी का कितना होगा, किया पुलवामा और सेना का ज़िक्र, माँगा भाजपा के लिए वोट

उमेश गुप्ता/हरिलाल प्रसाद

भीमपुरा (बलिया)। अभिनय जगत से नेतागिरी में आये दिनेश लाल निरहुआ इस चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी के तौर पर आजमगढ़ से अखिलेश के मुकाबिल उतरे. इस दौरान उके कई बडबोले शब्द वायरल हुवे और आलोचकों के शिकार भी हो चुके है. रिक्शे से मशहूर हुवे निरहुआ अब भाजपा के स्टार प्रचारक है. आज भीमपुरा में एक चुनावी सभा में दिनेश लाल ‘‘निरहुआ‘‘ ने अपने भोजपूरी भाषण के दौरान सपा पर तंज कसते हुए कहा कि जो अखिलेश यादव को उनके बाबूजी ने मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बिठाया था उस बाबूजी से लड़ाई लड़कर साईकिल को उनके हाथ से छीन लिया। अब उनका गठबन्धन हाथी से हो गया है। यह सोचने की बात है कि जो बाबूजी का नही हुआ वह हाथी का कितना होगा यह विचारणीय विषय है। कहा कि अखिलेश जी बेअन्दाज हो गये हैं जबकि उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने लोकसभा के अन्दर बोल दिया कि दोबारा नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बन कर आ जाते।

रामकरण पीजी कालेज भीमपुरा के खेल मैदान में शुक्रवार को शाम 5 बजे चुनाव प्रचार बन्द होने से ठीक 37 मिनट पूर्व हेलीकाप्टर से उतरने के बाद कुल 22 मिनट के भाषण में कहा कि देश की सीमाए सुरक्षित रखनी है तो दुनिया के सबसे अच्छा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को बनाने के लिए कमल के फूल पर 19 मई को वोट देने की अपील की। उन्होने गरीबी, गरीब, किसान, झोपड़ी में गैस, हर घर में शौचालय का सपना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूरा किया। पटना से पाकिस्तान फिल्म की चर्चा करते हुए कहा कि पटना में फिल्म रिलीज करते समय कह दिया था कि पाकिस्तान सम्भल जाओ, लेकिन वह नही माना और हमारे पीएम नरेन्द्र मोदी ने तत्काल पुलवामा हमला का बदला ले लिया। उसके मन में परिवार नही देश पहले है उसको परिवार की लालच अन्य लोगों जैसे नही है। इस लिए उसका पीएम बनना जरुरी है। भाषण शुरु करने से पूर्व यहां प्रधान संघ सीयर के अध्यक्ष एवं फिल्मी जगत के प्रड्यूशर आलोक सिंह का परिचय कराते हुए उन्हें गुरु की दर्जा दिया और कहा कि इनका मेरे आजमगढ़ चुनाव में पूरा सहयोग मिला है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *