ममता को क्या पता था, कि दुनिया से विदा हो जाएगा उसका पुत्र

उमेश गुप्ता

बिल्थरारोड (बलिया)। ममता देवी को क्या पता था कि अपने पुत्र सुधांशु 11 वर्ष को मायके लेकर एक सप्ताह के लिए जा रही हूं, और वह दुर्घटना में मृत होकर, मेरा साथ छोड़ दुनिया से विदा हो जाएगा। सुधांशु अपनी मां ममता देवी के साथ सिर्फ एक सप्ताह के लिए घूमने ननिहाल हल्दीराम पुर में अपने नाना नन्द लाल राजभर के घर आया था। यह किसको पता था कि ननिहाल घूमने गया सुधांशु के साथ यमराज महाराज अपनी इच्छा पूर्ति के लिए साथ लगे हुए हैं।

हुआ यूं कि उभांव थाना क्षेत्र के बिल्थरारोड-बलिया राजमार्ग पर सोमवार को प्रातः लगभग 9 बजे हल्दीराम पुर में कटहरबारी मौजा के सामने सुधांशु राजभर 11 वर्ष एक स्कार्पियो की चपेट में आने से उसकी उस समय मौत हो गयी जब वह किसी कार्य वश हल्दीराम पुर चट्टी पर किसी समान के लिए जा रहा था। घटना के तत्काल बाद उसे सीएचसी सीयर में उपचार के लिए ले जाया गया लेकिन चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। वह हल्दीराम पुर में अपने नाना नन्दलाल राजभर के यहाँ एक सप्ताह पूर्व घूमने के लिए अपनी मां ममता के साथ आया हुआ था।

वह कल मंगलवार को अपने घर वापस जाने वाला था। मृतक सुधांशु के नाना नन्दलाल राजभर जी माने तो उनकी पुत्री ममता की शादी फरुखाबाद में मुकेश से हुई है। मृत बालक सुधांशु की एक बहन व एक और भाई भी है। घटना होने के बाद स्कार्पियो को चालक लेकर फुर्र हो गया लेकिन पुलिस ने अपनी हकम्मत अमली से पकड़ने में सफलता पा लिया है। इस घटना से पूरे परिवार में पहाड़ों के चट्टान टूट पड़ा और परिजनों में चीख चिल्लाहट से पूरा माहौल ही गमगीन हो गया है। पुलिस ने आरोपी स्कार्पियो व अज्ञात चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सुधांशु के शव को कब्जे में लेकर पीएम हेतु बलिया भेज दिया है। इस मौके पर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि राजाराम राजभर सहित ग्राम के अन्य लोग मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *