बच्चे को कोरोना से लड़ने की ताकत देगा माँ का दूध – नारायण देवी

आदिल अहमद

कासगंज। कोरोना काल  में महिलाएं बच्चो की देखभाल के प्रति बिल्कुल भी लापरवाही न दिखाएं। शिशु को छह  माह तक केवल स्तनपान कराएं क्योंकि कोविड -19 जैसी गंभीर बीमारी से बचाव के लिए शिशु को मां के दूध की आवश्यकता है। मां के दूध में पोषक तत्व होते हैं। यह शिशु को बीमारियों से लड़ने मे मदद करता है। उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसलिए शिशु को जन्म से छह माह तक केवल स्तनपान ही कराएं।

सोरो ब्लाक केंद्र रामपुर अभयपुर की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता  उर्मिला देवी ने धात्री नारायण देवी को स्तनपान और साफ सफाई का संदेश दिया। नारायण देवी को बताया कि शिशु को केवल स्तनपान ही कराएं। ऊपर का कुछ न दें, जैसे-पानी, घुट्टी, शहद आदि। छह माह तक केवल मां का दूध पिलाने से शिशु की रोग प्रतिरोधक क्षमता बनी रहेगी। बच्चा बीमार नहीं पड़ेगा और शिशु को बीमारी से लड़ने में मदद मिलेगी। स्तनपान कराते समय साफ सफाई का ख्याल रखें। हाथों को साबुन या पानी से अच्छी तरह से धोकर ही शिशु को स्तनपान कराएं और मास्क का प्रयोग करें।

आंगनवाड़ी उर्मिला ने स्तनपान के फायदे भी बताए

मां का पहला पीला गाढ़ा दूध (कोलस्ट्रम) शिशु के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है और शिशु के पेट को साफ करने मे मदद करता है। कोलस्ट्रम शिशु का पहला टीका माना  जाता है, जिसे बच्चे को जन्म के एक घंटे के भीतर अवश्य पिलाना चाहिए। स्तनपान शिशु को अपने शरीर का तापमान सामान्य रखने में मदद करता है। मां और बच्चे के बंधन को मजबूत बनाता है। मां का दूध शिशु को बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *