अजीबो-गरीब : मध्य प्रदेश में हुई कुत्ते और कुतिया की शादी, 800 लोगो ने उड़ाई इस शादी की दावत

आफताब फारुकी

डेस्क. इसको अजीबो-गरीब किस्म की दावत कहेगे. शादी हुई मगर लड़के लड़की की नहीं बल्कि एक कुत्ते और कुतिया की. इस शादी में दावत भी ज़बरदस्त हुई. दस बीस नहीं बल्कि कुल 800 लोगो ने इस दावत का आनंद लिया. पुरे हिन्दू रीतिरिवाज़ से शादी होती है. जानकार आपको बिलकुल अटपटा लगेगा क्योकि हिन्दू धर्म में शादी सात जन्मो का बंधन माना जाता है.

मामला मध्यप्रदेश के निवाड़ी जिले का है. निवाड़ी जिले के पुछीकरगवा गांव में एक कुत्ते और कुतिया की शादी कराई गई। धूमधाम से सारे रस्म-ओ-रिवाज निभाए गए। यहां तक कि दोनों को सात फेरे भी दिलाए गए और इस शादी में करीब 800 लोगों ने जमकर दावत भी उड़ाई। अब मामले की जानकारी मिलने के बाद हर कोई इसकी चर्चा कर रहा है।

जानकारी के मुताबिक, दूल्हा बने कुत्ते का नाम गोलू बताया जा रहा है, जबकि दुल्हन बनी कुतिया का नाम रश्मि रखा गया। गांव वालों ने उन दोनों की शादी हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार कराई। इस शादी में दावत भी की गई, जिसमें करीब 800 लोगों ने हिस्सा लिया। इसके अलावा इस शादी में आम शादियों की तरह जमकर नाच-गाना भी हुआ। लोगों ने बताया कि रश्मि नाम की कुतिया पुछीकरगवा गांव के मूलचंद नायक की है। उन्होंने उसकी शादी यूपी के बकवा खुर्द निवासी अशोक यादव के कुत्ते गोलू से कराई। इस दौरान शादी के बाद दुल्हन की तरह कुतिया को विदा भी किया गया।

बताया जा रहा है कि निवाड़ी जिले के पुछीकरगुवा गांव में रहने वाले काफी समय से पानी की किल्लत से जूझ रहे हैं। अपनी इस दिक्कत को दूर करने के लिए उन्होंने कुत्ते और कुतिया की शादी कराने का फैसला किया। उनका मानना है कि अगर कुत्ते-कुतिया की शादी करा दी जाए तो इंद्रदेव खुश हो सकते हैं, जिससे पानी की किल्लत दूर हो जाएगी।

अब आप सोच रहे होंगे कि क्या इस २१वीं सदी में कोई ऐसी बाते कर सकता है. साहब यहाँ बात करना छोडिये उसको अंजाम दे डाला. पानी की किल्लत दूर करने के लिए कुत्ते और कुतिया की शादी इस प्रकार से पुरे दावत-ओ-तवाजे के साथ अंजाम दिया गया. अब जब इस मामले की जानकारी लोगो को हो रही है तो लोग हैरान होकर केवल हंस रहे है.

(समाचार साभार अमर उजाला)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *