पप्पू यादव ने जारी किया वीडियो, बालू ढोते दिखी एम्बुलेंस, भाजपा नेताओं और सांसद पर उठ रहे बड़े सवाल, देखे आज क्या क्या किया पप्पू यादव ने खुलासा

तारिक खान / अनिल कुमार

पटना/डेस्क. बिहार के नेता और पूर्व सांसद पप्पू यादव भाजपा के सांसद रूडी के खिलाफ मोर्चा खोले हुवे है। शुक्रवार को पप्पू यादव द्वारा यह जानकारी सामने लाई गई थी कि राजीव प्रसाद रुडी के दफ्तर में दर्जनों एंबुलेंस धूल फांक रही है। इसके जवाब में रुडी ने ड्राइवरों की कमी का हवाला देकर बताया था कि ड्राइवर नहीं मिलने के कारण इनका परिचालन नहीं हो पा रहा है, शनिवार को पप्पू यादव 40 ड्राइवरों के साथ मीडिया के सामने आए और बताया कि वह सरकार के पास इन ड्राइवरों की जानकारी देकर वहां मौजूदा एंबुलेंस का परिचालन शुरू कराएंगे।

इसके बाद एक और बड़ा खुलासा करते हुवे पप्पू यादव ने एक वीडियो शेयर किया जिसमे एक एम्बुलेंस को बालू ढोते दिखाया गया। वीडियो में दिखाई दे रही एम्बुलेंस की पीछे राजीव प्रसाद रूडी का नाम भी लिखा हुआ है। वीडियो में एक बालू के ढेर के पास बालू भरी बोरियां रखी हुई है जिसको उठा कर एम्बुलेंस के पीछे रखा जा रहा है। पप्पू यादव ने वीडियो शेयर करते हुवे लिखा है कि “एम्बुलेंस का राजीव प्रताप रूडी जी बालू ढोने में बहुत बेहतरीन उपयोग कर रहे थे। इसके लिए उनके पास ड्राइवर भी उपलब्ध था। लेकिन बीमारों की मदद के लिए एम्बुलेंस चलाने के लिए ड्राइवर नहीं था।

इसके पहले पप्पू यादव ने एक और वीडियो शेयर किया था। ये वीडियो शव वाहन का था जिसको सांसद रूडी संबोधित कर रहे थे। वीडियो में सांसद अपने संसदीय क्षेत्र की जनता के लिए एक ट्रक के पास खड़े होकर इस ट्रक को शव वाहन बनाये जाने की बात कर रहे है और इसकी उपयोगिता समझा रहे है। वीडियो 2 अप्रैल का है। इस वीडियो को शेयर करते हुवे पप्पू यादव ने लिखा है कि “एम्बुलेंस दो साल से छुपाकर रख दिया था, लोग मरने लगे तो 2 अप्रैल को शव वाहन समर्पित किया। एम्बुलेंस न होने के कारण अस्पताल न जा सकें तो इनके कंट्रोल रूम में फोन कर यह शव वाहन मंगवा लें। फूलों से सजा-धजा कर श्मशान ले जाएं। इसके लिए रूडी जी के पास ड्राइवर बहुतायत में उपलब्ध हैं।“ इस ट्वीट को काफी लोग पसंद कर रहे है और हज़ार से ऊपर रीट्वीट भी हो चुके है।

पप्पू यादव ने कुछ एम्बुलेंस का फोटो शेयर करके लिखा है कि “यह सब हाईटेक लाइफ सपोर्ट सिस्टम, एक्सरे, जेनेरेटर युक्त एम्बुलेंस है। दरभंगा के MP रहे कीर्ति झा आजाद जी के सांसद फंड से खरीदा गया था, हरेक पर लागत 32 लाख था। इसका रजिस्ट्रेशन भी नहीं हुआ है। बिना उपयोग के वर्षों से सड़ने छोड़ दिया गया है। DMCH दरभंगा के खेल मैदान बेंता ओपी के पास।” इस ट्वीट के बाद पप्पू यादव ने एक और ट्वीट कर इसकी जिम्मदारी जिला प्रशासन पर डाली है, साथ ही वर्त्तमान भाजपा सांसद रूडी पर भी निशाना साधा है। उन्होंने लिखा है कि “यहां जिम्मेदारी सरकार की है, जिला प्रशासन की है, तत्कालीन सांसद ने जनहित में इतना बढ़िया एम्बुलेंस खरीदकर सौंप दिया। संचालन प्रशासन को करना था तो उसने सड़ने छोड़ दिया। बाकी अभी के सांसद तो कमाल के हैं ही।

इस सबके साथ सबसे बड़ी खबर के तौर पर पप्पू यादव ने एक वीडियो ट्वीट किया है जो कुछ ऑक्सीजन सिलेंडर के है। उनहोंने ट्वीट में दावा करते हुवे लिखा है कि पटना गर्दनीबाग थाने के पास सरकारी अस्पताल में पड़ा है यह सब ऑक्सीजन सिलेंडर कबाड़ में फेंका हुआ है। जहां एक-एक ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए लोग तड़प-तड़प कर जान दे रहे हैं, वहां यह हाल है। इसके लिए किस पर मुकदमा होना चाहिए? यह भी उजागर कर रहे हैं तो हम पर ही कर दीजिए केस। कर लीजिए गिरफ्तार।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *