बेटी ने सुनी माँ के मोबाइल में ऑटो कॉल रिकॉर्डिंग और फिर खुला राज़ कि उसकी माँ ने ही अपने आशिक के साथ मिल कर उसके पिता को उतार दिया था मौत के घाट

सायरा शेख

मुंबई: एक पत्नी ने पति की हत्या को हार्ट अटैक बताकर उसका अंतिम संस्कार कर दिया। लेकिन हत्या के तुरंत बाद आशिक से की गई फोन पर उसकी बातचीत की ऑटो रिकॉर्डिंग हो गई। जिससे उसकी साजिश सबके सामने आ गई। दरअसल तीन महीने बाद जब बेटी के हाथ फोन लगा और उसने रिकॉर्डिंग सुनी तो सन्न रह गई। बेटी ने पुलिस को रिकॉर्डिंग सुनाई और केस दर्ज करवाया। पुलिस ने मां और उसके आशिक को गिरफ्तार कर लिया है। ये वारदात महाराष्ट्र के चंद्रपुर गुरुदेव नगर की है।

वन विभाग से रिटायर श्याम रामटेके अपनी पत्नी के साथ रहते थे। 6 अगस्त को उनकी पत्नी रंजना रामटेके ने सुबह अपनी बेटी और रिश्तेदारों को फोनकर बोल कि श्याम रामटेके की हार्ट अटैक से मौत हो गई है। किसी को कोई शक नहीं हुआ और शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

ब्रम्हपुरी के सीनियर पी आई रोशन यादव के मुताबिक 12 नवंबर को रंजना की बेटी श्वेता पुलिस थाने में फोन पर बातचीत की ऑडियो रिकॉर्डिंग लेकर आई। जिसमे उसकी मां एक मुकेश त्रिवेदी नाम के शख्स से बात कर रही थी कि कैसे उसने तकिया से पति की हत्या कर दी है और ऐसे ही लिटा दिया। सुबह सबको फोन कर बताएगी कि हार्ट अटैक आ गया है। बेटी श्वेता के मुताबिक सबकुछ सामान्य था।

बेटी अपने पिता के मौत का गम भुलाने की कोशिश कर रही थी कि 11 नवंबर को किसी काम से उसने अपनी मां का मोबाइल फोन लिया और उसमे चेक किया तो ये राज खुला कि मां ने मुकेश के साथ मिलकर पिता के खाने में नींद की गोली मिलाकर बेहोश किया और फिर तकिए से पिता की हत्या कर दी।हैरानी की बात है कि हत्या करने के बाद रंजना फोन पर जब मुकेश से बात कर रही है तब वो जरा भी डरी या पछतावे में नहीं थी।  वह हंसकर बात कर रही है कि कैसे मैंने उसे मार दिया और अब सुबह परिवार और आस पड़ोस को बताऊंगी कि हार्ट हटैक से मौत हो गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *