जाने कौन सी है मछली जो बचाती है डेंगू से

फारुख हुसैन

लखीमपुर खीरी÷ डेंगू की रोकथाम करने के लिए गम्बूसिया मछली का बीज तैयार कर लिया गया है। इसको 25 अगस्त के बाद जिले भर के तालाबों में डालकर डेंगू के लार्वा को समाप्त करने का अभियान चलाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग और मत्स्य विभाग ने मिलकर गम्बूसिया मछली का बीज तैयार किया है।

इसके लिए सीएमओ आवास में बने तालाब में मछली का बीज डालकर तैयार किया गया। इस समय इस तालाब में करीब डेढ़ लाख मछलियां मौजूद है। इनको 25 अगस्त से जिले भर के तालाबों में डालकर इनकी और संख्या बढ़ाई जाएगी। इससे तालाब में होने वाले मच्छरों की रोकथाम होगी। गम्बूसिया मछली मच्छरों के लार्वा को ही खाती है। इससे मच्छर ही नहीं पनप सकेगें।

दो से तीन सेंटीमीट की होती है मछली

गम्बूसिया मछली महज दो से तीन सेंटीमीटर की ही होती है। इसकी संख्या काफी तेजी से बढ़ती है। महज तीन माह में ही यह दो गुना हो जाती है।

डेंगू के लार्वा का करेगी खात्मा

गम्बूसिया मछली की वजह से ही केरल राज्य में डेंगू से पूरी तरह से निजात पायी गई थी। इसके बाद इसको प्रदेश में गोरखपुर में भी पाला गया। यहां भी मच्छर जनित रोगों पर रोकथाम लग सकी। अब खीरी में भी इसका प्रयोग कर डेंगू से बचाव किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *