मोक्ष नगरी काशी में एक और हत्या, चाय विक्रेता की उसके दूकान में हुई हत्या

तारिक आज़मी/ ए जावेद

वाराणसी। लगातार हो रही हत्याओं से मोक्ष की नगरी काशी इस समय सहमी हुई है। दिव्यांग पान विक्रेता की झुन्ना पंडित द्वारा हत्या का मामला अभी लोगो के ज़ेहन से उतरा ही नही था कि चेतगंज थाना क्षेत्र में डबल मर्डर केस में दंपत्ति की हुई हत्या ने शहर को हिला कर रख दिया। इस मामले के तह तक अभी पुलिस पहुचने का प्रयास ही कर रही थी कि बीती रात किसी समय अज्ञात हमलावरों ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में एक चाय विक्रेता के सर पर ईंट मार कर हत्या से मोक्ष की नगरी में दहशत की सिहरन दौड़ गई।

प्राप्त समाचारों के अनुसार काशी हिंदू विश्वविद्यालय परिसर में मूल रूप से गोरखपुर के निवासी रामजी राम उर्फ रामू (65) पिछले लगभग 25 सालों से चाय समोसे की दुकान चलाता था। अनुमान लगाया जा रहा है बीती रात किसी समय बदमाशों ने उसकी हत्या कर दी। मृतक राम जी मूल रूप से गोरखपुर का निवासी था और वाराणसी के रमना इलाके में रहता था। हत्या के कारणों का अभी तक पता नहीं चल सका है, पुलिस मामले में जांच पड़ताल कर रही है।

जहा इस प्रकरण में पुलिस एक तरफ चोरो द्वारा हत्या करने के पर ध्यान दे रही है। वही दूसरी तरफ दूकान के बिखरे सामन इस शंका को भले ही बल दे रहे है, मगर मृतक की लाश जिस अवस्था में पाई गई है वह इस शंका को और सशंकित कर रही है। पुलिस सूत्रों के अनुसार मृतक की लाश बिस्तर पर सीधे लेटे हुवे स्थिति में पाई गई है वही जिस भारी वस्तु अथवा ईंट से हत्या हुई है वह भी मौके से बरामद न होने की बात सामने आ रही है।

बहरहाल, जिस प्रकार से दिन प्रतिदिन अपराध का ग्राफ शहर में बढ़ता जा रहा है उससे शहर में सनसनी फैली हुई है। पिछली तीन हत्याओं में अभी तक पुलिस के हाथ खाली है। झुन्ना पंडित के गैंग मेंबर तक भले ही पुलिस पहुच रही है, मगर झुन्ना पंडित अभी भी पुलिस के रडार से दूर है। दूसरी तरफ डबल मर्डर केस में पुलिस को कुछ पुख्ता सबूत हाथ लगने की जानकारी भी पुलिस सूत्रों से प्राप्त हो रही है। प्रकरण में परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करके विवेचना शुरू कर दिया है। समाचार लिखे जाने तक पोस्टमार्टम की कार्यवाही चल रही थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *