भाजपा नेता आसिफ शेख उर्फ़ आसिफ पटाखा के यहाँ पड़ा छापा, भारी मात्रा में पटाखा हुआ बरामद, जाने और भी है भण्डारण दालमंडी में

तारिक आज़मी

वाराणसी। चौक पुलिस को अवैध पटाखे के सम्बन्ध में आज एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। एक छापेमारी में पुलिस को भारी मात्रा में पटाखा बरामद हुआ है। पुलिस सूत्रों के अनुसार यह गोदाम भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के महामंत्री मो आसिफ शेख उर्फ़ आसिफ पटाखा का है. मौके से आसिफ शेख फरार बताये जा रहे है। पुलिस माल ज़ब्ती की कार्यवाही कर रही है।

छापेमारी के सम्बन्ध में प्राप्त समाचारों के अनुसार पुलिस को लगातार आसिफ शेख के द्वारा भारी मात्र में दालमंडी के तंग गलियों में पटाखे भण्डारण की सुचना मिल रही थी। आसिफ शेख जो भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के महानगर वाराणसी के महामंत्री भी है का पटाखे का गोदाम दालमंडी के गुदड़ी में प्राथमिक पाठशाला के पास है। इतनी भारी संख्या में पटाखे के भण्डारण से क्षेत्र में असुरक्षा की भी भावना हो रही थी। विशेष रूप से आसिफ शेख के गोदाम के नीचे बेसमेंट (अंडर ग्राउंड) में भण्डारण पुरे इलाके को ही बारूद के ढेर पर रखे हुवे थे।

पुष्ट सुचना प्राप्त कर आज क्षेत्राधिकारी दशाश्वमेघ सुश्री प्रीती त्रिपाठी के नेतृत्व में थाना प्रभारी आशुतोष तिवारी ने अपनी टीम के साथ छापेमारी किया। इधर सूत्रों के अनुसार छापेमारी में भाजपा नेता मौके से फरार हो गया। समाचार लिखे जाने तक लाखो का पटाखा बरामद हो चूका है। तलाशी अभियान अभी भी जारी है। अभी भी भारी मात्रा में भण्डारण के समाचार प्राप्त हो रहे है।

और भी है बड़े भण्डारण

ऐसा नही है कि केवल यह एक भण्डारण ही दालमंडी की सकरी गलियों में पटाखों का है। इसके अलावा भी कुछ बड़े भण्डारण दालमंडी के अन्दर पटाखों के होने की जानकारी हमारे सूत्र दे रहे है। शायद इतिहास का यह पहला मौका है जब चौक पुलिस ने पूरी ईमानदारी से बड़े भण्डारण पर छापेमारी किया है। इसके पहले छोटे भण्डारण पर ही पुलिस की पहुच हो पाती थी।

इसी बीच हमारे सूत्र बता रहे है कि पीतल वाली ताजिया के चंद कदम की दुरी पर एक भवन में पटाखे का बड़ा भण्डारण है। इतनी सकरी गलियों में इतना बड़ा भण्डारण किसी घटना दुर्घटना पर भारी संख्या में तबाही मचा सकता है। भगवान् न करे अगर ऐसा कुछ होता है तो निश्चित तौर पर यही राजनैतिक दल और यही नेता पुलिस के खिलाफ जिंदाबाद मुर्दाबाद करके अपनी राजनैतिक रोटी सेकने लगेगे।

कुछ भाजपा नेता लगे छापेमारी रोकने में

वही क्षेत्र में इस बात की चर्चा अचानक शाम 5:35 पर फैली है कि मामले में छापेमारी की कार्यवाही को रोकने के लिए भाजपा के कुछ नेता उचे लेबल से दबाव पुलिस पर डलवाने का प्रयास कर रहे है। वही पुलिस अपनी कार्यवाही रोकती नही दिखाई दे रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *