यदि मै केंद्रीय मंत्री होता तो अपने पद से इस्तीफा दे देता – यशवंत सिन्हा

आदिल अहमद

कानपुर में गांधी शांति यात्रा का सपाइयों ने जोरदार स्वागत किया.फूल बाग स्थित गांधी प्रतिमा में पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने गांधी प्रतिमा पर पुष्पांजलि की. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सीएए को लेकर विरोध शान्तिपूर्वक होना चाहिए वहीं सरकार को भी विरोध से निपटने के लिए लोकतांत्रिक तरीका अपनाना चाहिए. विरोध को गलत तरीके से दबाने के चलते हिंसा की घटनाएं हुई. उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेई और मोदी की बीजेपी में दिन और रात का अंतर है.मौजूदा सरकार गलत आर्थिक नीतियों की वजह से देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है.

नोटबंदी और जीएसटी ने अर्थव्यवस्था की कमर तोड़ दी है. देश में मांग नाम की चीज नहीं है जिसके चलते अर्थव्यवस्था पटरी से उतर गई है. केंद्र और प्रदेश सरकार कर्जा लेने की स्थिति में है. उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में केवल 2 लोग ही सरकार को चला रहे हैं. वित्त मंत्री को फैसले लेने की आजादी नहीं है.उन्हें बजट का भाषण हाथ में पकड़ा दिया जाता है और वह उसे पढ़ा देती हैं. ऐसी स्थिति में मैं होता तो इस्तीफा दे देता। यशवंत सिन्हा को स्मृति चिन्ह देकर संजय सिंह और आशू खान ने सम्मानित किया।

मुख्य रूप से उपस्थित विधायक अमिताभ बाजपेई, इरफान सोलंकी, फजल महमूद, मिंटू यादव, संजय सिंह, आशू खान, नंदलाल जायसवाल, चंद्रेश सिंह, दीपा यादव, जावेद जमील, मुर्तजा खान, संजय सिंह पटेल, अनवर मंसूरी, वरुण मिश्रा, एडवोकेट वरुण मेहता, हाजी इकलाख अहमद बब्लू, आदि लोग मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *