कोरोना का जारी है दुनिया में कहर, अमेरिका में मृतकों की संख्या हुई 75 हज़ार पार, जाने विश्व में कोरोना से जुडी क्या है लेटेस्ट न्यूज़

आफताब फारुकी/तारिक खान

डेस्क. दुनिया में कोरोना ने मौत का कोहराम मचा रखा हुआ है। मौत का खेल इस वायरस के वजह से जारी है। अकेले अमेरिका में ही इस वायरस की चपेट में आने से 75 हज़ार लोगो ने अपनी जान गवा दिया है। कब्रिस्तान में जगह कम पड रही है। अमेरिका की स्थिति तो इस प्रकार हो चुकी है कि वहा पर लाशो को रखने के लिए शवगृह में जगह कम पड़ चुकी है। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार वहा ट्रको में रखी गई लाशें अब सड़ने लगी है।

इस दौरान अमेरिका अब बेरोज़गारी से भी जूझ रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सिर्फ पिछले सप्ताह में कुल 3।3 मिलियन अमरीकनों ने बेरोज़गारी भत्ते के लिए आवेदन किया था। अब तक कुल 33 मिलियन लोगो ने बेरोज़गारी भत्ते के लिए दावा किया हुआ है। ये संख्या यहाँ बढ़ रही बेरोज़गारी को दर्शाती है। मार्च के तीसरे हफ्ते से लेकर अब तक के ये आकडे है। इसके मुताबिक खुद समझा जा सकता है कि यहाँ लोगो के रोज़गार पर इस वायरस ने कितना असर डाला है। \

इस दौरान कोरोना ने वाइटहाउस तक अपनी पकड़ बना लिया है। वाइट हाउस में एक कर्मचारी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आने से वाइटहाउस में हडकंप मच गया था। अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पत्रकारों से कहा कि व्हाइट हाउस में कोरोना वायरस टेस्ट को बढ़ाया जाएगा। राष्ट्रपति ट्रंप के निकट संपर्क में काम करने वाले एक सहायक का कोरोना टेस्ट पॉज़ीटिव आने के बाद यह फ़ैसला लिया गया है। ट्रंप ने कहा कि अभी तक जो टेस्ट सप्ताह में एक बार हुआ करता था अब वो प्रतिदिन एक बार किया जाएगा। \

उन्होंने कहा, “मेरा उस शख़्स से बहुत कम संपर्क था।” उन्होंने बताया कि बुधवार और गुरुवार को उनका भी टेस्ट हुआ। इससे पूर्व प्रेस सेक्रेटरी होगव गिडले ने इस बात की पुष्टि की थी कि व्हाइट हाउस में काम करने वाले यूएस मिलिट्री के एक सदस्य का सैंपल पॉज़ीटिव आया है। सीएनएन की ख़बर के मुताबिक़, संक्रमित व्यक्ति ट्रंप का एक निजी सेवक था।

सिर्फ अमेरिका ही क्या पूरी दुनिया कोरोना वायरस से अब त्राहि त्राहि कर रही है। शायद ऐसा मंज़र किसी ने अपने जीवन में नहीं देखा होगा। हर मुल्क इस महामारी से त्रस्त हो चूका है। दुनिया में अब तक कुल 2 लाख 67 हज़ार से अधिक लोग इस वायरस के संक्रमण से मौत की नींद सो चुके है। वही पूरी दुनिया में संक्रमितो की बात करे तो वह संख्या जो हम सोच नही सकते है उतने संक्रमित अब तक दुनिया में मिल चुके है। अभी तक के आकड़ो पर गौर करे तो इसके अब तक दुनिया में कुल 38 लाख से अधिक हैं लोग संक्रमित है।

ब्रिटेन में आज जुमेरात के रोज़ कुल 539 लोगो ने मौत को गले लगा लिया। इन मौतों के बाद अब ब्रिटेन में कुल मृतकों की संख्या 30,615 हो चुकी है। ब्रिटेन के विदेश मंत्री डोमिनिक राब ने कोरोना संकट पर दैनिक ब्रीफ़िंग में कहा कि मृतकों की संख्या सभी लोगों के लिए दुःखद है और संकट के दौरान पीपीई की सप्लाई और केयर होम्स की व्यवस्था एक बड़ी चुनौती थी।

राब ने कहा कि ब्रिटेन में पाबंदियों को लागू रखा गया और अब संकट के दूसरे चरण के बारे में सोचा जा सकता है। उन्होंने साथ ही लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते रहने की चेतावनी देते हुए कहा कि इसकी अवहेलना करने से वायरस तेज़ी से फैल सकता है। ऐसा हुआ तो दोबारा लॉकडाउन की ज़रूरत पड़ेगी।”

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन रविवार को अगले चरण की योजना और लॉकडाउन में ढील की शर्तों का ब्यौरा पेश करेंगे। वही दूसरी तरफ फ़्रांस के प्रधानमंत्री एदुआर्द फ़िलिपे ने भी कहा है कि फ़्रांस में 11 मई से लॉकडाउन आहिस्ता-आहिस्ता ख़त्म किया जाएगा। इस दरमियाँ पाकिस्तान ने भी शनिवार से लॉकडाउन ख़त्म करने का एलान कर दिया है। जिसके बाद कारोबार और बाज़ारों में लागू पाबंदियाँ हटा ली जाएँगी।

अस्पतालों में ओपीडी भी दोबारा खोल दिए जाएँगे जिन्हें संक्रमण को रोकने के लिए एहतियातन बंद कर दिया गया था। लेकिन स्कूल, कॉलेज अभी भी बंद रहेंगे। सभी परीक्षाएँ रद्द कर दी गई हैं। दुकानों के खुलने का समय भी सीमित कर दिया गया है। भीड़ ना हो इसलिए दुकानें केवल दिन में खुलेंगी। रमज़ान के दौरान लोग शाम और रात को ख़रीदारी करना पसंद करते हैं। दुकानें वीकेंड पर बंद रहेंगी। लॉकडाउन हटाने का एलान करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने ज़ोर देकर कहा कि लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो सरकार और सख़्त लॉकडाउन लागू कर देगी। पाकिस्तान में चिंता जताई जा रही है कि लॉकडाउन में ढील देने से हालात और ख़राब हो सकते हैं।

संक्रमण के मामले में टॉप-5 देश

  • अमरीका-12,31,992
  • स्पेन-2,20,325
  • इटली-2,14,457
  • ब्रिटेन- 2,02,359
  • रूस-1,77,160

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *