देखे वायरल वीडियो, गाजियाबाद के भाजपा विधायक का विवादित बयान, कहा क़ुरबानी करना है तो अपने बच्चो की बलि दे

सरताज खान

गाजियाबाद। भाजपा नेताओं द्वारा विवादित बयान कोई नई बात नही है। इस कड़ी में भाजपा के लोनी विधायक नन्द किशोर गुर्जर का एक विवादित बयान आज सुबह से ही सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में उन्होंने बकरीद के पर्व पर क़ुरबानी को लेकर विवादित बयान दिया है और कहा है कि बलि देना है तो अपने बच्चो की बलि दे।

जनपद के लोनी क्षेत्र से विधायक नंदकिशोर गुर्जर और विवादों का चोली दामन का साथ होता जा रहा है। उनका बकरीद पर कुर्बानी को लेकर एक विवादित बयान वायरल हो रहा है। बयान में उन्होंने कहा है कि कोरोना को देखते हुए कुर्बानी ना दें, कुर्बानी देनी है तो अपने बच्चों की दें। इस तरह से बकरों की  बलि देकर उनको खाना एक पाप है और अगले जन्म में उन्हें बकरा बनना पड़ेगा, और लोग उन्हें काट कर खायेगे।

भले ही नन्द किशोर गुर्जर इस बात को लेकर बयान दे रहे है कि बलि देना है तो अपने बच्चो की बलि दे। मगर शायद वो ये भूल रहे है कि देश में कई ऐसे स्थान है जहा आस्था के मद्देनज़र हिन्दू धर्म के लोग भी बलि देते है। मगर एक धर्म विशेष के लोगो को टारगेट करते हुवे गुर्जर के इस ब्यान की चर्चा-ए-आम हो गई है। वही मुस्लिम धर्म के मानने वालो ने इस बयान को लेकर अपना रोष प्रकट किया है।

बताते चले कि लोनी विधायक और विवाद कोई नई बात नही है, उनका एक और वीडियो इसके पहले भी वायरल हुआ था जिसमे वह कहते सुने जा रहे थे कि जो लोग भी लॉकडाउन के दौरान अपने घरों से निकल रहे हैं उन्हें पुलिस पैर में गोली मार दे। जो पुलिसवाले ऐसा करेंगे उन्हें वह (विधायक) 5100 रुपये नकद पुरस्कार देंगे। यह देशभक्ति का काम होगा और कोई दिक्कत नहीं है, जो होगा हम देख लेंगे।

इसके पहले लगभग 8 माह पूर्व उन्होंने एक फ़ूड इन्स्पेक्टर की पिटाई कर दिया था। जिसके लिए उन्हें पार्टी से कारण बताओ नोटिस भी मिला था। इसी दौरान शिवरात्रि के अवसर पर पुरा महादेव मंदिर बंद होने के बाद भी लोनी के भाजपा विधायक द्वारा जलाभिषेक करने का मामला चर्चाओं में रहा है। जिसके बाद विधायक नंद किशोर गुर्जर ने मंदिर कमेटी और मुख्य पुजारी को पत्र भेजकर माफी मांगी। साथ ही मंदिर कमेटी से पत्र के माध्यम से भविष्य में इस तरह की पुनरावृत्ति नहीं करने की बात कही।

बताते चले कि सावन के महीने में पुरा महादेव मंदिर सभी के लिए पूर्ण रूप से बंद है। मंदिर में कोई न जा सके, इसके लिए मंदिर के बाहर भारी पुलिस बल तैनात है। इसके बावजूद शिवरात्रि के अवसर पर रविवार को लोनी के भाजपा विधायक नंद किशोर गुर्जर अपने लाव लश्कर के साथ मंदिर में पहुंचे। इतना ही नहीं विधायक ने बिना मास्क लगाए ही मंदिर में प्रवेश कर भगवान आशुतोष का जलाभिषेक भी किया था। जानकारी होते ही मंदिर कमेटी और प्रशासन में हड़कंप मच गया और सभी अपनी-अपनी ओर से सफाई देकर मामले से पल्ला झाड़ने में जुट गए थे। इसके बाद विधायक जी ने अपने आप को फंसता देख पत्र लिखा कर मंदिर कमेटी से अपने कृत्यों के लिए माफ़ी मांगी थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *