वाराणसी नौका दुर्घटना – दो नही चार युवक हुवे थे लापता, रात तक सभी चार युवको के शव हुवे बरामद

ए जावेद/ मो0 सलीम

वाराणसी। वाराणसी के गंगा नदी में कल हुवे नौका दुर्घटना में दो नहीं बल्कि चार युवक लापता हुवे थे। वही दुर्घटना के कारणों पर भी अब कुछ और बाते सामने आने लगी है। स्मरण रहे कि भदैनी घाट के सामने ओवरलोड नाव के गंगा में डूबने के कारण दो युवको के लापता होने की जानकारी कल प्रकाश में आई थी। जिसके लिए देर रात तक कल रेस्क्यू आपरेशन चला मगर लापता युवको का कोई पता नही चला था।

इसके बाद आज सोमवार को बजरडीहा क्षेत्र के सरायसुर्जन निवासी शाहिद जुनैद (19) के पिता बुनकर अब्दुल बकी और शाहनवाज (20) के पिता बुनकर सलीम खान भेलूपुर थाने पहुंचे। दोनों बुनकरों ने पुलिस को बताया कि उनके बेटे भी रविवार की शाम से गायब हैं और वह भी संभवत: गंगा घाट की ओर ही गए थे। अभी तक जो लापता युवको की संख्या दो मानी जा रही थी इस जानकारी के बाद फिर वह चार हो गई।

इसके बाद आज सुबह से ही चार लापता युवको के लिए रेस्क्यू आपरेशन चला। जिसके बाद सोमवार शाम तक तीन युवकों के शव गंगा में मिले। वहीं देर रात चौथे युवक का भी शव गंगा से बरामद हुआ। ये सभी शव सोमवार को जानकी घाट, आनंदमयी घाट और चेतसिंह घाट के सामने गंगा से बरामद हो गए। इस दौरान दिन भर भदैनी और आसपास के घाटों पर लोगों की भीड़ उमड़ी रही। भेलूपुर इंस्पेक्टर अमित कुमार मिश्रा के अनुसार, रात लगभग 12:40 बजे जानकी घाट के सामने से मल्लाहों ने चौथे युवक अभिषेक का शव बरामद किया है।

गौरतलब हो कि रामनगर की ओर से गंगा की रेती से रविवार की शाम छह बजे के लगभग एक छोटी नाव भदैनी घाट आ रही थी। नाव में नाविक और 11 युवक-युवतियां सवार थे। गंगा से सुरक्षित बाहर निकाली गई दो युवतियों और उनके एक दोस्त के अनुसार नाव में पानी भरने के कारण वह डूब गई थी। वहीं इस सम्बन्ध में जब नाविक मनोज साहनी से बात किया गया तो उसके अनुसार नशे में धुत एक युवक के सेल्फी लेने के कारण नाव असंतुलित होकर पलट कर डूब गई थी।

रविवार की रात भेलूपुर थाने की पुलिस ने मनोज और अन्य नाविकों की सूचना के आधार पर बताया था कि नाविक सहित 10 लोग सुरक्षित हैं। जबकि, शिवपुर थाना अंतर्गत लक्ष्मणपुर क्षेत्र की गंगोत्री बिहार कॉलोनी का विशाल सिंह (24) और उसकी कॉलोनी में रहने वाला उसका दोस्त अभिषेक मौर्य (24) लापता हैं।

उधर, सोमवार को खोजबीन के दौरान दोपहर के समय गंगा में जानकी घाट के सामने से विशाल सिंह और फिर आनंदमयी घाट के सामने से शाहिद जुनैद का शव गोताखोरों ने बाहर निकाला। शाम के समय चेतसिंह घाट के सामने से शाहनवाज का शव बरामद हुआ। वहीं देर रात जानकी घाट के सामने से ही अभिषेक मौर्य का भी शव बरामद हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *