वाराणसी एमएलसी चुनाव – मतगणना प्रक्रिया पर गंभीर सवाल उठा कर सपाई बैठे धरने पर, कई मतपेटियो के सील न होने और कई की सील टूटी होने का लगा आरोप

ए जावेद

वाराणसी. वाराणसी में स्नातक शिक्षक एमएलसी चुनाव के लिए शुरू हुई मतगणना प्रक्रिया पर समाजवादी पार्टी (सपा) ने गंभीर आरोप लगाये है। जिसकी जानकारी शहर में होने पर मतगणना स्थल पहड़िया मंडी के बाहर हजारों की संख्या में सपा कार्यकर्ता पहुंच गए हैं। सपा प्रत्याशी आशुतोष सिन्हा और सपा जिलाध्यक्ष सुजीत यादव लक्कड़ मौके पर पहुंचकर धरने पर बैठ गए। इस दौरान मौके पर पुलिस बल भी पहुंच गया, साथ ही पीएसी की टीमें भी पहुंच गईं। धरना दे रहे सपा प्रत्याशी को पुलिस ने हिरासत में लेकर नजरबंद कर दिया है।

मतगणना प्रक्रिया पर सवाल उठाते हुए सपा के पहड़िया मंडी के मुख्य द्वार पर धरने पर बड़ी संख्या में सपाई बैठ गए। देर रात समाचार लिखे जाने तक जिच जारी रही. स्नातक के सपा प्रत्याशी आशुतोष सिन्हा ने आरोप लगाया कि मतपेटिका के ऊपर सील नहीं हैं और कुछ मतपेटियों की सील टूटी हुई है। सपा जिला अध्यक्ष सुजीत यादव लक्कड़ और महानगर अध्यक्ष विष्णु शर्मा के नेतृत्व में पूरी सपा की टीम धरने पर बैठी है। पार्टी कार्यकर्ता जमकर सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे हैं। सपा के धरने की सूचना के बाद आला अधिकारी मंडी मतगणना स्थल पहुच गए। पुलिस ने धरना स्थल को चारों ओर से घेर लिया।

सपा प्रत्याशी ने रिटर्निंग ऑफिसर, कमिश्नर दीपक अग्रवाल से आपत्ति दर्ज कराई है। उन्होंने कहा कि कई बूथ के बॉक्स ऐसे मिले जिन पर सील नहीं थी। इसके लिए हम लोगों ने आपत्ति दर्ज कराई। उन्होंने कहा कि कई बूथों पर वोट कहीं अधिक तो कहीं कम निकले है। उन्होंने उदहारण के तौर पर बताया कि चोलापुर में 283 वोट थे, वहां 285 वोट निकले। जखनिया में मतपेटिका सील नहीं थी। जखनिया गाजीपुर में 381 वोट थे, वहां 380 वोट निकले। आशुतोष सिन्हा ने आरोप लगाया कि कहीं न कहीं चुनाव को प्रभावित किया जा रहा है। सपा का कहना है कि चुनाव निष्पक्ष होने की आशंका नहीं है। अगर निष्पक्ष चुनाव नहीं हुए तो सपा आंदोलन करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *