सुन मेरे भाई, सुन मेरे भाई – आखिर जीजा की साले ने क्यों कर दिया दालमंडी की घुनघरानी गली में कुटाई, देखे दोनों पक्ष का वीडियो

तारिक़ आज़मी

(नोट – वीडियो बिना काटछाट किये लगाया गया है. वीडियो में “जीजा” पक्ष द्वारा अश्लील गालियों का प्रयोग किया गया है.)

वाराणसी। वाराणसी के चौक थाना क्षेत्र के दालमंडी स्थित घुनघरानी गली में जीजा की सालो ने कुटाई कर डाली। इस दरमियान जीजा के पक्ष का कहना है कि साले पक्ष के लोगो ने घर में घुस कर काफी दौलत लूट लिया है। खूब जमकर तोड़फोड़ किया है। इसका वीडियो बना कर जीजा पक्ष वायरल करवा रहा है। इसी वीडियो में देखा जा सकता है कि एक महिला ज़मीन पर मुजरिमों की तरह बैठ कर माफ़ी मांग रही है। वीडियो बनाने वाले ने एक कमरे में बिखरे पड़े नोटों को दिखाया और कहा है कि ये लोग लाखो रुपया लूट ले गए है। इस वीडियो में ज़मीन पर मुजरिमों के तरह बैठ कर रोते हुवे हदस और डर के साए में एक महिला को देखा जा सकता है जिससे बड़े शानदार तरीके से पूछा जा रहा है कि कोई दबाव में बयान तो नही दे रही हो।

प्रकरण में आरोप है कि चौक थाना क्षेत्र के घुनघरानी गली में रहने वाले मोहम्मद इरफ़ान के साथ उनके ससुराल पक्ष के लोगो ने असलहाधारी 50-60 लोगो ने मिलकर घर में घुस कर इरफ़ान को मारा। खूब तोड़ फोड़ किया और 7 लाख रुपया लूट लिया। वैसे वीडियो में ज़मीन पर बिखरे रुपयों को दिखा कर दावा किया गया कि ये लूट ले गए। अब मामला समझ नही आता कि जो लूटने आया था वो सब क्या थे जो लूट के दरमियान रुपया काफी एक बिखर गया और उसको लेकर नही गए।

पहले आप देख ले जीजा पक्ष के द्वारा बनाया गया वायरल वीडियो

मीडिया आजकल गाली खूब जमकर सुन रही है। इस मामले में एक पतलकाल छाब की खबर देख कर समझ आ गया कि आखिर मीडिया गाली क्यों सुन रही है। न पुलिस का बयान न मौके पर संवाद सीधे एक पक्ष के तरफ से खुद पैरोकार बनकर लिखा डाला खबर जैसी कोई चीज़। न कही छपना न कही दिखना। हाँ ट्वीटर पर एक जौनपुर न्यूज़ नाम की आईडी से पोस्ट ज़रुर हो गई खबर। अब आप उसको समझ सकते है कि आखिर मामला कितना अधिक गंभीर रहा होगा। बहरहाल, रात 10 के बाद हुवे इस घटनाक्रम में पुलिस ने तत्काल कार्यवाही करते हुवे जीजा और साले दोनों को थाने बैठा लिया है। समाचार लिखे जाने तक नेतागिरी के नाम पर थाने के बाहर दलालों का जमावड़ा दिखाई दे रहा था। मगर थाना प्रभारी आशुतोष तिवारी के रहते उनके अन्दर जाने की हिम्मत नही थी। मामले में पुलिस जाँच कर रही है और विधिक कार्यवाही की बात सामने आ रही है।

क्या है मामला

हमने इस सम्बन्ध में जब क्षेत्रीय नागरिको से तफ्तीश किया तो लोगो ने दबी जबान में पूरी घटना का ज़िक्र किया। बताया जा रहा है कि दालमंडी के घुनघरानी गली निवासी मोहम्मद इरफ़ान की शादी रामनगर में कही हुई है। पत्नी गर्भवती है और इरफ़ान बैग का कारोबार करता है। माली हैसियत ठीक ठाक है। पत्नी गरीब घर से सम्बन्धित है। आज शाम को किसी मामले में पत्नी ने अपने ससुर का कोई बात पर जवाब दे दिया था। क्षेत्रीय नागरिको ने नाम न ज़ाहिर करने के शर्त पर बताया कि इसके बाद इरफ़ान और उसके भाई ने मिल कर इरफ़ान की पत्नी की कुटाई कर दिया।

अब देखे वो वीडियो जो झगड़े के समय मोहल्ले के लोगो ने बनाया

घर की बहु इस प्रकार मार खा रही थी तो उसने अपनी माँ को फोन कर दिया। हालात ख़राब जानकार बहु की माँ ने अपने बेटे को जानकारी दिया और खुद भी मौके पर बेटी के ससुराल पहुची। इसी दरमियान क्षेत्रीय नागरिको का कहना है कि बात बढ़ी और घर के अन्दर इरफ़ान और उसके भाई ने इरफ़ान की सास के साथ भी मारपीट किया। जिसकी जानकारी जब बेटे को हुई तो अपने दो तीन दोस्तों के साथ मौके पर पंहुचा और अपनी मार खाती माँ को लेकर बाहर गली में आया।

बाहर गली में क्षेत्रीय नागरिको ने घटना का वीडियो भी बनाया है जो जमकर वायरल हो रहा है। घर की बहु गरीब परिवार से आई है और गर्भवती भी बताई जाती है। बाप का साया न होने के कारण डरी सहमी सी बहु सबके पैर पकड़ कर माफ़ी मांगती इरफ़ान द्वारा वायरल वीडियो में दिखाई दे रही है जो क्षेत्रीय नागरिको के इस बात को साबित करता है कि ज़ुल्म कही न कही उस बेबाप की बेटी के साथ हुआ होगा।

बहरहाल, मामला पुलिस के पास है और पुलिस मामले में विवेचना कर रही है। ख़ास तौर पर थाना प्रभारी चौक डॉ आशुतोष तिवारी और दालमंडी चौकी इंचार्ज एक एक बात की खाल खुद ही निकाल लेंगे। हमको न लड़की पक्ष से कोई बयान मिल पाया है और न ही लड़के के पक्ष से। मगर क्षेत्रीय नागरिको ने यह ज़रूर दबे जबान में कहा है कि घर की बहु के साथ मारपीट होने और उसमे आपत्ति करने पर उसकी माँ के साथ मारपीट होने की घटना के बाद साले ने जीजा को रसीद कर दिया और बढ़िया से रसीद कर डाला। क्षेत्रीय नागरिको द्वारा बनाया गया वीडियो हमे उपलब्ध भी करवाया गया और क्षेत्र में चल रहे सोशल मीडिया ग्रुप पर भी ये वीडियो जमकर वायरल हो रहा है।

हम एक बार फिर स्थिति स्पष्ट कर दे कि हमने न एक पक्ष का बयान लिया है और न ही दुसरे पक्ष का। मगर क्षेत्र में मौजूद हमारे सूत्रों ने प्रकरण की हकीकत जो हमे बताई है वह लिख डाला है। वैसे पुलिस का कहना है कि सभी आरोपों की निष्पक्ष जाँच हो रही है और मामले में निष्पक्ष कार्यवाही होगी। पूछताछ के लिए जीजा और साले दोनों को थाने पर लाया गया है। विधिक कार्यवाही प्रचलित है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *