वाराणसी: शराबियो को अपने घर के बाहर हुड़दंग करने से रोकने पर बुज़ुर्ग भाजपा नेता की किया मनबढ़ शराबियो ने बेरहमी से पीट-पीट कर हत्या, पिता को बचाने आये पुत्र की स्थिति गम्भीर

शाहीन बनारसी

वाराणसी: वाराणसी का सिगरा थाना क्षेत्र एक बार फिर नशेड़ियो के उपद्रव का केंद्र बना। इस बार उपद्रव्व भी ऐसा कि एक बुज़ुर्ग भाजपा नेता की जान चली गई और उनके बेटे की स्थिति गम्भीर है और इलाज चल रहा है। मामले में मृतक बुज़ुर्ग भाजपा नेता पशुपति नाथ के परिजनों की तहरीर पर पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपियों की शिनाख्त और गिरफ़्तारी का प्रयास शुरू कर दिया है। पुलिस कमिश्नर ए0 सतीश गणेश ने बयान जारी करते हुवे बताया कि मामले के खुलासे हेतु 5 टीम गठित किया गया है। जल्द ही घटना का खुलासा होगा।

File Photo: मृतक बुज़ुर्ग भाजपा नेता पशुपति नाथ

मिले समाचारों के अनुसार वाराणसी के सिगरा क्षेत्र स्थित जय प्रकाश नगर कॉलोनी में भाजपा नेता पशुपतिनाथ (70) का आवास है। बुधवार रात लगभग 8:30 बजे बगल में ही देसी और अंग्रेजी शराब का ठेका है। रात 8 बजे ठेके पर कुछ युवक शराब पीकर आपस में गाली-गलौज करते हुए भाजपा नेता के घर के दरवाजे पर आ गए। इस पर पशुपति नाथ और उनके बेटे राजन सिंह (45) ने मना किया।

इसी बीच नशे में धुत दो युवकों से विवाद हो गया। जिसके बाद रोज़ रोज़ की इस प्रकार की बदतमीज़ी से तंग मोहल्ले के कुछ लोग एकत्रित हुए और युवकों की पिटाई कर दी। इसके बाद युवक गाली-गलौज करते हुए भाग निकले। कुछ ही देर में छह बाइक से 15-16 की संख्या में युवक आए लेकिन मोहल्ले में लोगों की संख्या अधिक होने के कारण चले गए। रात साढ़े आठ बजे के बाद 40 से 50 की संख्या में हॉकी, डंडे और रॉड से लैस होकर आए और पिता-पुत्र पर टूट पड़े।

इस अचानक भीड़ के रूप में आये उपद्रवियों को देख कर मोहल्ले में हडकंप मच गया और जिसको जहा जगह मिली वहा भागने लगा। उपद्रियो ने हॉकी-डंडे से बेरहमी से पशुपति नाथ की पिटाई की। सिर में गंभीर चोट लगने के कारण पशुपति नाथ ने घटनास्थल पर ही दम तोड दिया। वहीं, बेटा राजन सिंह भी अधमरा हो गया। इसके बाद हमलावर भाग निकले। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल को बीएचयू ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया। मिल रही अपुष्ट जानकारी के अनुसार सिगरा पुलिस ने एक आरोपी को हिरासत में लिया है और बाकियों के शिनाख्त की कोशिश कर रही है। राजन को बीएचयू ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है, जहा उसकी हालत गम्भीर बनी हुई है।

घटना में भाजपा नेता की मौत का समाचार मिलते ही पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया है। बीएचयू में तीन थानों की फोर्स पहुच गई। पशुपतिनाथ सिंह 2012 में पार्षद का चुनाव लड़ चुके हैं। घटना की जानकारी मिलते ही कैंट भाजपा विधायक सौरभ श्रीवास्तव सहित कई भाजपा नेता और कार्यकर्ता मौके पर पहुच गए। घटना स्थल का पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश ने भी मुआयना किया और अधिनस्थो को आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

पुलिस कमिश्नर ए0 सतीश गणेश ने कहा कि शराब पीकर मारपीट से मना करने पर अवांछनीय तत्वों ने भाजपा नेता की हत्या कर दी। सिगरा थाने में परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। हमलावरों को पकड़ने के लिए पांच टीमों का गठन किया गया है। जल्द ही गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.