सोशल मीडिया पर एक अलग पहचान बनाता हरि दुबे (thebakwastalks) जानिए इनके जीवन का क्या रहा संघर्ष

मुकेश यादव

आज संचार प्रांत के युग में सोशल मीडिया एक ऐसा केंद्र बनता जा रहा है जहां व्यक्ति अपनी छिपी हुई प्रतिभाओं को उजागर कर लोगों के बीच प्रदर्शित कर सकता है। कहां जाता है कौन कहता है आसमां में सुराख नहीं हो सकता, तबीयत से एक पत्थर तो उछालो यारो। कुछ इसी तरह का मुकाम हासिल करने वाले हरि दुबे  (thebakwastalks) नाम लोगों के बीच लोकप्रिय होते जा रहा है।

सोशल मीडिया के माध्यम से सभी वर्गों के लोगों को समान रुप से स्वस्थ मनोरंजन कर रहे हरि दुबे (thebakwastalks) एक मुस्कान एक हंसी की कहानी गढ़ रहे हरि दुबे (thebakwastalks) का जन्म 8 सितंबर सन् 2000 को मुंबई के पास तारापुर के शांत गांव बोईसर में हुआ। इनके पिता का नाम अशोक कुमार दुबे मां का नाम विमला दुबे है इनका बचपन उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ शहर के ग्राम तेरही कप्तानगंज  में व्यतीत हुआ। हरि दुबे (thebakwastalks) एक प्रतिभाशाली छात्र के रूप में अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन विद्यालय में स्थापित करते रहे।

एक बार उनके जीवन में ऐसा मोड़ आया जब वे होनहार इंजीनियर बन सकते थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ वो अपने परिवार के साथ हंसी खुशी के साथ हरि दुबे (thebakwastalks) सकारात्मक बातचीत से लोगों को प्रभावित किया करते थे। उनके काले भूरे बाल को एक विशेष प्रकार की स्टाइल की रुप में देखा जाता था। इनकी लंबाई 5 फुट 9 इंच एवं वजन 55 किलो ग्राम है। यह एक छोटे से शहर के लड़के एक कॉमेडी से मुकाम हासिल कर चुके हैं। जो किसी एक परिकथा से कम नहीं। स्कूल में 12वी के बाद आसानी से इंजीनियरिंग बन सकते थे। किंतु 1 दिन जब वह किराने की दुकान से खरीदारी करके लौट रहे थे, उनकी मुलाकात प्रसिद्ध अभिनेता मनोज सिंह टाइगर से हुई और उन्होंने इन्हें अभिनय की दुनिया में जाने के लिए प्रेरित किया और कहा कि भारतेंदु नाटक अकादमी में एक नाट्य नाटक “थोड़ा-थोड़ा गाधी” देखने के लिए हरि को अपने साथ ले गए।

यही से हरि का जीवन दर्शन बदल गया और उन्हें विश्वास था कि वाह मंच पर मौजूद लोगों से भी बेहतर अभिनय कर सकते हैं। ज्ञातब्य हो की  21 मई 2021 को उनका चैनल (thebkwastalks) youtube पर वीडियो बनाना शुरु कर दिया। जिसके अब तक youtube पर इनके एक लाख 40 हजार सब्सक्राइबर है और वही इंस्टाग्राम  पर 7 लाख से अधिक फॉलोअर्स है। अपनी सफलता का सारा श्रेय अपनी अपने सबसे अच्छे दोस्त प्रिवेंद्र सिंह देते है। हरि को आगे बढ़ने के लिए अब आवश्यकता थी योग्यता की, क्योंकि बिना योग्यता के आगे बड़े प्लेटफार्म को हासिल नहीं कर सकते थे। इसके लिए उन्होंने फैसला किया कि वह मास कम्युनिकेशन का कोर्स करेंगे और आर्थिक मुद्दों के लिए सबसे सस्ता उपलब्ध विकल्प यही है।

उन्होंने 3060 रुपये के प्रतिवर्ष के शुल्क पर महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ विश्वविद्यालय वाराणसी में प्रवेश ले लिया और वर्तमान में उनका अध्यन चल रहा है। इस समय youtube इंस्टाग्राम facebook पर इनकी वीडियो धमाल मचा रही है और इनके दर्शक जमकर प्यार बरसा रहे हैं। आज के युवा वर्ग के लिए एक प्रेरणा है कि वह जीवन में कुछ नया करके एक उच्च मुकाम हासिल कर सकता है। जिससे समाज में उसकी छवि लोगों से हटकर अलग  सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.