कश्मीर के गुरेज़ में हिमस्खलन में शहीद हुआ आजमगढ़ का लाल,

यशपाल सिंह 
आज़मगढ़ : जम्मू कश्मीर के गुरेज़ सेक्टर में गणतंत्र दिवस के दिन -40 डिग्री सेल्सियश पर सीमा की रक्षा के दौरान शहीद हुए 11 जवानों में आजमगढ़ के लाल नायक 36 वर्षीय अजित सिंह पुत्र अनिरुद्ध सिंह निवासी जमीरपुर थाना तरवां भी हैं। इसकी जानकारी अजीत के बड़े भाई रामाशीष सिंह उर्फ़ सुनील के मोबाईल पर आर्मी कैम्प से कमीशंड ऑफिसर के माध्यम से मिली। घटना की सूचना के बाद से परिवार सन्न रह गया है वहीं अभी तक पुलिस प्रशासन से किसी ने सुधि नहीं ली है। इसीलिये परिज़न अभी असमंजस की स्थिति में हैं। हालांकि घटना के बाद से घर में मातम है और गाँव में सभी मर्माहत हैं और किसी अन्य सूचना के लिए कौतुहल है। शुक्रवार शाम को एबीसी की टीम गाँव में पहुँची तो लोगों की भीड़ जमा हो गयी। सभी सेना के इस जांबाज़ की बहादुरी और नेकनीयती को अपनी तरह से बयाँ कर रहे थे। शहीद के पिता भी आर्मी की सेवा में रह चुके हैं और वर्ष 1985 में रिटायर हुए। शहीद के दो पुत्र आर्यन 9 वर्ष व अंश प्रताप 7 वर्ष हैं। वर्ष 2001 में बीए प्रथम वर्ष की पढाई के दौरान ही अजीत ने आर्मी में भोपाल से भर्ती पास कर ली थी। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *