हजारों की संख्या में तोतों के साथ तीन अभियुक्त गिरफ्तार

फारुख हुसैन

पलिया कलां खीरी। दुधवा टाइगर रिजर्व के वनों में बेसकीमती पक्षियों का शिकार और पकड़ने की घटनायें कम होने का नाम नही ले रहीं हैं जिसमें कभी वन्य जीवों का शिकार और उनकी तस्करी रुकने का नाम नहीं​ ले रही है। जिसके चलते आये दिन तस्कर वन्यजीवों और पक्षियों को नुकसान पहुंचाते रहते हैं अब तो इन तस्कर और शिकारियों के हौसले कुछ ज्यादा ही बुलंद हो चुके हैं।

जिसमें कहीं न कहीं हमारे वन विभाग के द्वारा वन्यजीवों की सुरक्षा व्यवस्था में कमी की जा रही है और देखा जाये तो अभी दो दिन पूर्व ही दुधवा में वन्य जीव सप्ताह बहुत ही धूमधाम से मनाया गया था जिसमें उनकी सुरक्षा व्यवस्था की जानकारियां भी दी गयी थीं कि किस प्रकार से हम इन वन्यजीवों और बेसकीमिती पक्षियों की सुरक्षा करते हैं ।पर इस सुरक्षा व्यवस्था की पोल जब खुलकर सामने आई जब हजारों की तादाद में तोतों के साथ तीन शिकारियों को गिरफ्तार किया गया ।

जानकारी के अनुसार लखीमपुर खीरी के प्रचलित दुधवा टाइगर रिजर्व के मैलानी रेंज में मुखबिर की सूचना पर फील्ड डायरेक्टर रमेश कुमार पांडेय डाॅ अनिल कुमार पटेल डीडी बफर जोन के आदेश पर एक टीम गठित कर उस समय गिरफ्तार कर लिया जब वह विभिन्न प्रकार के तोतों को पीलीभीत ,खटीमा और दुधवा के जंगलों से पकड़कर दूसरे शहरों में सप्लाई करने के लिये जा रहे थे। सूचना मिलते ही टीम ने तस्करों को खुटार रोड से पीछा कर तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया जिनके पास से उत्तराखंड के नंबर की एक बुलोरो गाड़ी और लगभग तीन से चार हजार तोतों का बरामद किया गया।

तीनों अभियुक्तों से पूछताछ के दौरान पता चला कि यह तीनों तस्कर काफी समय से बेशकीमती पक्षियों को पकड़कर विभिन्न शहरों में सप्लाई किया करते थे और इनका यह तस्करी का कार्य अंतराष्ट्रीय लेवल पर भी किया जाता है। तीनों उत्तराखंड सहित अलग अलग जगह के निवासी है। जिसमें सनी पुत्र जंगबहादुर निवासी मोहल्ला बड़ गुलशेर खां बारा पत्थर कोतवाली पीलीभीत, राकेश पुत्र बलदेव और बिल्हन पुत्र रामलाल निवासी मझौला दाह फार्म तहसील खटीमा थाना खटीमा जिला उधम सिंह नगर उत्तराखंड हैं तीनों तस्कर तोतों को बेचने के लिये नखास लखनऊ के एक व्यापारी के पास बेचने के लिये लेकर जा रहे थे। पकड़े गये सभी तोतों को दुधवा के घने जंगलों में छोड़ दिया गया। फिलहाल तीनों तस्करों को तस्करी सहित विभन्न धाराओं में जेल भेज दिया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *