गर्भवती महिलाओं से आडियो या वीडियो काॅल के माध्यम से की जा रही स्क्रीनिंग: राजेश कुमार

गौरव जैन

रामपुर। जनपद में कोरोना वायरस के संक्रमण के दृष्टिगत लाॅकडाउन प्रभावी है जिसकी वजह से आंगनवाड़ी केन्द्रों का संचालन भी नहीं किया जा रहा है। ऐसी स्थिति में गर्भवती महिलाओं, बच्चों एवं किशोरियों के स्वास्थ्य व सुपोषण के लिए प्रशासनिक स्तर से हर सम्भव कदम उठाए जा रहे है।

पूरे जनपद में संचालित आंगनवाड़ी केन्द्रों पर पंजीकृत लाभार्थियों को घर-घर पोषाहार पहॅुचाने के बाद अब प्रशासन द्वारा गर्भवती महिलाओं, किशोरी, बालिका तथा बच्चों के पोषण स्तर की वीडियो काॅलिंग व टेलीफोन के माध्यम से नियमित माॅनीटरिंग करने की कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गई है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि आंगनवाड़ी कार्यकत्री, पोषण सखी एवं सीडीपीओ द्वारा चिन्हित गर्भवती महिलाओं से आॅडियो या वीडियो काॅल के माध्यम से स्क्रीनिंग की जा रही हैै। अब तक 300 से अधिक महिलाओ से बात करके उन्हें पौष्टिक भोजन के साथ ही विभिन्न पोषक तत्वों से युक्त व्यंजनों को अपनी दिनचर्या में शामिल करने की सलाह दी जा चुकी है तथा आगे भी लोगों से बात करके उनके स्वास्थ्य की नियमित मॉनिटरिंग की जाएगी।

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान अपनी सामाजिक भूमिका के अंतर्गत अपने घरों में मास्क बनाकर उन्हें जरूरतमंदों तक पहुंचाने का भी कार्य कर रही हैं जिला कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने स्वेच्छा से लोगों को कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव के लिए जागरूक करने की दिशा में निरंतर प्रयास कर रही हैं साथ ही अपने घरों में मास्क तैयार करके उन्हें घर-घर जाकर जरूरतमंदों को वितरित भी कर रही हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *