वाराणसी के पुर्व एसपी (सिटी) दिनेश सिंह ने प्रयागराज पहुचते ही गाड़ा सफलता का परचम, 1 लाख का इनामिया फरार अशरफ चढ़ा पुलिस के हत्थे

तारिक आज़मी

प्रयागराज। वाराणसी में सफलता और फक्र का तीन साल पूरा करने के बाद यहाँ से ट्रांसफर होकर प्रयागराज पहुचे वाराणसी के पूर्व एसपी (सिटी) दिनेश सिंह ने चार्ज लेते ही अपराध पर कहर बनकर टूट पड़े। बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद का भाई और लम्बे समय से फरार चल रहा एक लाख का इनामिया अपराधी अशरफ पुलिस के लिए एक अबूझ पहेली बन चूका था। एसपी (सिटी) प्रयागराज के पद पर चार्ज ग्रहण करने के तुरंत बाद ही अशरफ की गिरफ्तारी करवा कर दिनेश सिंह ने अपराधियों को सन्देश भेज दिया है।

राजू पाल की हत्या में वांछित चल रहा माफिया अतीक का भाई खलिद अजीम उर्फ अशरफ कई सालों से पुलिस के साथ चूहे बिल्ली का खेल खेल रहा था। पुलिस इसकी गिरफ़्तारी के लिए काफी समय से कोशिश कर रही थी। मगर सफलता हाथ नही लग पा रही थी। इस दौरान पुलिस ने आस पास के जनपदों में भी जमकर छापेमारी किया था। खलिद उर्फ अशरफ पर कुल 30 मुकदमे दर्ज है। इनमे से 7 मुकदमो में वह वांछित चल रहा था।

आज एसपी सिटी प्रयागराज दिनेश कुमार सिंह ने खुद नेतृत्व करते हुवे टीम के साथ धूमनगंज के न्यू बमरौली स्थित शिवाला मार्किट से एक लाख के इनामिया और बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद के भाई खलिद अजीम उर्फ अशरफ को गिरफ्तार कर लिया।

वातानुकूलित कमरों में रहने वाला। आलीशान बंगले का मालिक, ज़मीन पर पैर न धरने वाला खालिद उर्फ़ अशरफ आज थाने की ज़मीन पर कम्बल बिछा कर बैठा था। शान-ओ-शौकत सब ठन्डे बसते में थी। ऐठन और जलवा पुलिस के सामने ज़मिदोज़ था। आखरी पुलिस को सफलता हाथ लग ही गई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *