खबरों के बीच की खबर – सिर्फ चंद घंटो में तलाश कर पकड़ लिया कोतवाली पुलिस ने उस अराजकतत्व को जिसने पोती थी पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की प्रतिमा पर कालिख

ए जावेद

वाराणसी। अराजकता का माहोल पैदा करने के उद्देश्य से जब प्रधानमंत्री का कार्यक्रम वाराणसी शहर में होना था उसी सुबह यानि 30 नवम्बर 2020 को थाना कोतवाली क्षेत्रान्तर्गत किसी अज्ञात अराजकतत्व के द्वारा पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की मैदागिन स्थित प्रतिमा पर कालिख लगा कर अराजकता फैलाने का प्रयास किया गया था। सुबह होते ही इस मामले की जानकारी जंगल में आग की तरह शहर में फ़ैल गई और कांग्रेस नेताओं के अन्दर आक्रोश उमड़ आया। सिर्फ कांग्रेस नेता ही क्यों शहर के आम नागरिको ने इस कृत्य की कड़ी आलोचना किया था।

मामले में लिखित तहरीर देते हुवे कांग्रेस महानगर अध्यक्ष राघवेन्द्र चौबे ने शिकायत दर्ज करवाई थी। उनकी शिकायती पत्र पर कार्यवाही करते हुवे पुलिस ने मु0अ0सं0 149/2020 धारा 295 भादवि पंजीकृत कर मामले की गंभीरता को देखते हुवे कार्यवाही शुरू कर दिया। वही दूसरी तरफ उस अराजकतत्व को लगा कि वह अपने नापाक इरादे में कामयाब होकर आराम कर सकता है। इस दरमियान पुलिस ने एक तरफ प्रधानमंत्री का कार्यक्रम और दूसरी तरफ इस प्रकार का अपराधिक कृत्य के मद्देनज़र अपनी कार्यवाही तुरंत शुरू किया।

आसपास के कैमरों की सहायता से सिर्फ चंद मिनटों में ही कोतवाली पुलिस ने अराजकता फैलाने के उद्देश्य से इस कृत्य को करने वाले युवक की पहचान कर डाली और बिना देर किये व्यस्त कार्यक्रमों के बावजूद भी महज़ 2 घंटो में ही मामले का निस्तारण करते हुवे शैलेन्द्र यादव को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सियाराम का बेटा शैलेन्द्र यादव जो ढेलवरिया पानीटंकी के पास का रहने वाला है ने इस कृत्य को अंजाम केवल अराजकता फैलाने के उद्देश्य से दिया था। इस युवक की शिनाख्त करके उसको गिरफ्तार कर लिया गया है। मामले में पूछताछ हुई है। आगे की कार्यवाही प्रचलित है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *