वाराणसी – दुर्गाकुंड इलाके में संतोषी माता मंदिर के पुराने विवाद में चली गोली, एक घायल, देखे वीडियो जब ट्रामा सेंटर में हुआ जमकर हंगामा

ए जावेद

वाराणसी। वाराणसी के भेलूपुर थाना क्षेत्र के दुर्गाकुंड पुलिस चौकी क्षेत्र में नवागंतुक चौकी प्रभारी आशीष मिश्रा को ज्वाइन करते के साथ ही बदमाशो ने अपनी हरकत से सलामी दे डाली है। आज दुर्गाकुंड चौकी क्षेत्र ने नवाबगंज के पास स्थित मंदिर के पुराने विवाद में रात पुजारी को गोली मार दी गई। इस दौरान फायरिंग के आरोपी मंदिर प्रबंध कमेटी के सचिव और भाई को आक्रोशित लोगों ने लाठी-डंडे से मारपीट लहुलुहान कर दिया। घटनास्थल पर बताया जा रहा है कि 3-4 राउंड फायरिंग हुई है। सूचना पर भेलूपुर थाने की पुलिस ने घायलों को बीएचयू स्थित ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया। जहा जमकर हंगामा हुआ। गोली लगने से घायल अर्चक हिंदु युवा वाहिनी के महामना मदन मोहन मालवीय मंडल का उपाध्यक्ष बताया जा रहा है।

घटना के बाद रात में बीएचयू ट्रामा सेंटर में भारी संख्या में हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस के खिलाफ जमकर हंगामा किया। उधर, प्रबंध कमेटी के सचिव और हिंयुवा नेता के समर्थन में राज्यमंत्री समेत कई पदाधिकारी भी ट्रामा सेंटर पहुंचे गए। एहतियात के तौर पर इलाके में पीएसी सहित भेलूपुर और लंका थाने की फोर्स तैनात कर दी गई है।

घटना के सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार भेलूपुर थाना क्षेत्र के दुर्गाकुंड चौकी क्षेत्र के अंतर्गत शक्ति नगर में संतोषी माता का एक मंदिर है। करीब ढाई बिस्वा के इस मंदिर के ट्रस्टी व भाजपा नेता अतर सिंह (45) और उनके भाई राजबहादुर सिंह (40) है। मंदिर के पुजारी और प्रबंध कमेटी के बीच पिछले चार-पांच साल से विवाद चला आ रहा है। ये विवाद पिछले चार साल के लगभग से चल रहा है मगर कभी भी कोई शिकायत थाना स्थानीय पर नही आई और न कभी कोई शिकायती पत्र ही आया होगा। इसकी पुष्टि हमने स्थानीय थाने से करने का प्रयास किया तो किसी भी प्रकार की कोई शिकायत नही पाई गई। मामला आपस में बैठ कर ही हल हो रहा था।

लगभग रात आठ  बजे ट्रस्ट के सचिव राजबहादुर सिंह मंदिर में गए थे जहा उनका नए पुजारी अभिषेक पांडेय से विवाद हो गया। विवाद मौखिक होते होते शारीरिक पहुच गया और एक दुसरे से मारपीट की स्थिति बन गई और मारपीट होने लगी। मारपीट के दौरान राजबहादुर सिंह ने अपने बड़े भाई अतर सिंह को बुला  लिया। आरोप है कि अतर सिंह अपनी लाइसेंसी पिस्टल लेकर मौके पर पहुंचे और फायरिंग शुरू कर दी। तकरीबन चार राउंड फायरिंग में अभिषेक पांडेय के बाएं बांह में गोली जा लगी। जिससे वह घायल होकर ज़मीन पर गिर पडा।

इस घटना के बाद आक्रोशित मंदिर के अन्य पुजारी और आसपास के लोगों ने अतर सिंह समेत उसके भाई राजबहादुर सिंह की लाठी डंडे से पिटाई कर दी। इसी दौरान खून से लथपथ अभिषेक पांडेय को लेकर उसके साथी बीएचयू स्थित ट्रामा सेंटर भागे, सूत्र बताते है कि रास्ते में दुर्गाकुंड चौकी पर खुद अभिषेक पाण्डेय ने रुक कर इसकी सुचना वहा मौजूद पुलिस वालो को दिया। जिसके बाद पुलिस महकमे में हडकंप मच गया। वहीं सूचना पर भेलूपर थाने की पुलिस घटनास्थल पर पहुची तो वहा पिटाई से लहुलुहान अतर सिंह और राजबहादुर सिंह पड़े हुवे थे। जिनको पुलिस ने बीएचयू स्थित ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया।

हिंदु युवा वाहिनी के महामना मदन मोहन मालवीय मंडल के उपाध्यक्ष अभिषेक पांडेय को गोली लगने की सूचना पाकर बड़ी संख्या में हिंदु युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने बीएचयू ट्रामा सेंटर पहुंचकर पुलिस के प्रति लापरवाही का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। जिन्हें संभालने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। एक तरफ हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता ट्रामा सेंटर में भीड़ लगा कर हंगामा कर रहे थे वहीं भाजपा कार्यकर्ता पर हमले की सूचना पाकर राज्यमंत्री रविंद्र जायसवाल भी पहुंच गए।

बताते चले कि मारपीट में घायल अतर सिंह और राजबहादुर सिंह  पूर्व मंत्री ओमप्रकाश सिंह के भतीजे है। वही दूसरी तरफ घायल अर्चक हिन्दू युवा वाहिनी का पदाधिकारी है। घटना के सम्बन्ध में डीसीपी काशी जोन अमित कुमार ने बताया कि गोली से घायल अभिषेक खतरे से बाहर है। पूजा पाठ और प्रबंधक कमेटी के सचिव के बीच मारपीट और फायरिंग मामले की जांच की जा रही है। दोषियों पर कड़ी कार्यवाही होगी।

वैसे तो इस विवाद की सुचना जहा तक जानकारी विभाग से उपलब्ध है कभी पुलिस के स्तर तक पहुची ही नही थी। कभी किसी भी पक्ष का कोई शिकायती पत्र पुलिस को प्राप्त नही हुआ था। मगर मामला चार साल से लगभग चल रहा था और मामले में आपसी तौर पर बातचीत दोनों पक्षों के बीच हो रही थी जिसमे मध्यस्थता एक बड़े भाजपा नेता के द्वारा किये जाने की बात भी सूत्र बताते है। पुलिस अधिकारियो का कहना है कि मामले में जांच हो रही है। कड़ी कार्यवाही होगी।



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *