निलंबित एसआई वसीम अहमद ने साबित किया कि रगों में लहू के साथ कर्तव्य निष्ठा दौड़ रही है, चोरी के माल सहित आरोपी को पकड़ कर किया मंडुआडीह पुलिस के हवाले

मो0 सलीम

वाराणसी.पुलिस की ट्रेनिंग में एक गुरु मंत्र सिखाया जाता है कि “ए पुलिस मैन इस ऑलवेज आन ड्यूटी”। ये गुरु मंत्र निलंबित एसआई वसीम अहमद के रगों में खून के साथ दौड़ रहा है। इसका उन्होंने जीता जागता उदहारण पेश किया जब एक चोरी के मामले में लापरवाही के आरोप में निलंबित एसआई वसीम अहमद ने विभाग और समाज के लिए अपने कर्तव्यों को पूरा करते हुवे एक चोर को चोरी गए माल सहित पकड़ कर मंडुआडीह पुलिस के हवाले कर दिया।

हुआ कुछ इस प्रकरण कि कन्द्वा में चोरी के एक मामले में निलंबित चल रहे एसआई वसीम अहमद अपने घर पर थे। तभी पड़ोस के एक कुरियर कंपनी के कर्मचारी उनके पास आकर अपने यहाँ हुई चोरी के सम्बन्ध में बताते हुवे उनकी मदद मांगते है। अपने दायित्वों का अहसास रखने वाले वसीम अहमद जाकर सीसीटीवी फुटेज के आधार पर ही मामले को समझते है और चोर की शिनाख्त रोहित नामक युवक के रूप में हुई। रोहित मंडुआडीह के एक दलित बस्ती का रहने वाला है और अक्सर छोटी मोटी चोरियां किया करता है। मगर किसी ने थाने पर इसकी शिकायत नही किया था।

इस चोरी की घटना में सीसी टीवी फूटज के आधार पर दरोगा वसीम अहमद के द्वारा तफतीस शुरू किया गया। तफ्तीश के माध्यम से दरोगा वसीम अहमद के द्वारा आरोपी रोहित को पकड़ लिया गया और चोरी गए सामानों की बरामदगी हुई। इसके बाद वसीम अहमद ने उक्त आरोपी को मंडुआडीह थाने पर सुपुर्द कर दिया।

मंडुवाडीह स्टेशन के पास से पकडे गए रोहित के पास से चोरी की साइकिल और माल की बरामदगी हुई है। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल भी कर लिया। मंडुवाडीह थाना प्रभारी परशुराम त्रिपाठी ने बताया कि कंदवा में चोरी के मामले में लापरवाही के आरोप में दरोगा वसीम अहमद निलंबित किए गए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *